Home / Satsang (page 10)

Satsang

Majouda Satguru aksar satsang main farmate hai….

aapne ander sirf parmatma di aas(umeed) rakho sab dukh khatam ho jaan ge

मौजूदा सतगुरु जी अक्सर अपने सत्संग में फरमाते हैं कि इस बात को रहीम जी ने भी कितने साफ़ और सुन्दर लफ्जो में कहा हैं कि – रहिमन धागा प्रेम का मत तोड़ी चटकाय। जोड़ी से फिर न जुड़े, जुड़े गाठ पर जाये।। फरमाते हैं कि – “रहिमन धागा प्रेम ...

Read More »

Real Satsangi kon hai Read kare aur share kare

baba ji in satsang

सत्संगी कौन ? मालिक ने सत्संगी उन्हें कहा जो लाेग मालिक की रजा में रहे मालिक की याद में रहें जो पल पल उस मालिक के नाम का सिमरन करें । जिसके दिल में मालिक की जगह हों। और जो दिन रात मालिक के प्यार के लिए तडपतें है । ...

Read More »
error: Content is protected !!