Category: Real Story

Satsangi ne bahut Real Story Sunai …

Baba JI Gave Namdan (RSSB)

A large building was under way from a house for a long time. Everyday the small children of the laborers used to play the rail-rail game by catching each other’s shirt. Every day a baby engine was built and the other children were made compartment … Children with engines and bins can change every day, […]

Baba charan singh ji ki Story

Baba Charan Singh ji was very laughing; One day Baba Charan Singh Ji was going to Pathankot with Sardar Bahadur Singh Ji, when Sardar Bahadur Singh ji returned to the last seat and Baba Charan Singh ji was in the front seat. On the road, Baba Charan Singh Ji saw a monk who was riding […]

Radha Soami Very Heart Touching Story in HINDI

radhasoami singapore1

very_heart_touching_story…??? एक फ़क़ीर था।उसके दोनों बाज़ू नहीं थे। उस बाग़ में मच्छर भी बहुत होते थे। मैंने कई बार देखा उस फ़क़ीर को। आवाज़ देकर , माथा झुकाकर वह पैसा माँगता था। एक बार मैंने उस फ़क़ीर से पूछा – ” पैसे तो माँग लेते हो , रोटी कैसे खाते हो ? ” उसने बताया […]

Real Story on Sabar ka fal

The fruit of patience…. A poor young man, troubled by his poverty, went to the river to end his life, a sages stopped him from doing so. Sages, having heard the trouble of the young man, said, “I have a lore who will become a magic pitcher who asks this pitcher, will complete the magical […]

एक महिला रोज मंदिर जाती थी….

एक महिला रोज मंदिर जाती थी ! एक दिन उस महिला ने पुजारी से कहा अब मैं मंदिर नही आया करूँगी ! इस पर पुजारी ने पूछा — क्यों ? तब महिला बोली — मैं देखती हूँ लोग मंदिर परिसर में अपने फोन से अपने व्यापार की बात करते हैं ! कुछ ने तो मंदिर […]

एक आदमी ने नारदमुनि से पूछा मेरे भाग्य में कितना धन है…

एक आदमी ने नारदमुनि से पूछा मेरे भाग्य में कितना धन है… नारदमुनि ने कहा – भगवान विष्णु से पूछकर कल बताऊंगा… नारदमुनि ने कहा- 1 रुपया रोज तुम्हारे भाग्य में है… आदमी बहुत खुश रहने लगा… उसकी जरूरते 1 रूपये में पूरी हो जाती थी… एक दिन उसके मित्र ने कहा में तुम्हारे सादगी […]

एक गुरू का दास रोज गुरू के द्वार पर जा कर….

एक गुरू का दास रोज गुरू के द्वार पर जा कर रोज गुरू को पुकारा करता था लेकिन गुरू के दर्शन नहीं कर पाता था इसलिए वह हमेशा यही सोच कर चला जाता था कि शायद मेरी भक्ति भाव में कुछ कमी है इसलिए वो हर रोज बहुत ही प्रेम भाव से प्रभु के नाम […]

Radha Soami Satsang Beas (RSSB Satsang) © 2019 RssbSatsang.com
error: Content is protected !!